गूलरभोज डैम में मत्स्य पालन का ठेका कर सरकार घोट रही जनता का गला

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

आज पूरे प्रदेश में गदरपुर विधानसभा का नाम बड़े ही सम्मान के साथ लिया जाता है इतना ही नही आसपास के प्रदेश की जनता भले उत्तर प्रदेश की बात की जाए दिल्ली या पंजाब की यहां के लोग आज टूरिस्ट् के रूप में गदरपुर विधानसभा क्षेत्र के गूलरभोज डैम पर घूमने आते है ज्ञात हो गूलरभोज बोर्ड जलाशय को पर्यटक स्थल की बड़ी उपलब्धि के रूप में शामिल किया

यह पर्यटक स्थल देखते ही देखते हैं इतना बड़ा बनता गया कि यहां क्षेत्रीय ही नहीं बल्कि आसपास के प्रदेशों के लोग भी वोटिंग करने के लिए पहुँचने लगे साथ ही जल क्रीड़ा को भी बढ़ावा मिला इस बोर जलाशय को डेस्टिनेशन बनने से जनता के सपने साकार होते नजर आए वही दूसरी ओर यहां की जनता का कहना है पर्यटक स्थल घोषित होने के पश्चात यहां के छोटे छोटे दुकानदारों और ठेली फड़ जैसे फास्ट फूड राजमा चावल के लघु उद्योग करके यहां की जनता को रोजगार मिला परन्तु प्रदेश की भाजपा सरकार अब इस डेस्टिनेशन का गला घोटती नजर आ रही है

जी हां प्रदेश की भाजपा सरकार व मत्स्य मंत्री द्वारा सालों की मेहनत पर पानी फेरते हुए बोर जलाशय में मत्स्य पालन का ठेका दे दिया है इस विषय पर जब गूलरभोज की जनता से बात की गई तो पता चला कि भाजपा सरकार यहां की जनता से सौतेला व्यवहार कर रही है क्षेत्रीय जनता का कहना है अगर अब यहां मत्स्य पालन का काम हुआ तो टूरिस्ट् यहां नही आएंगे ओर यहां की जनता फिर बेरोजगारी के दलदल में धसती जाएगी क्षेत्रीय जनता ने प्रदेश सरकार से अपने फैसले को वापिस लेने की बात कही है हालांकि इस विषय पर सरकार निष्क्रिय दिखाई दे रही है

परंतु अगर मत्स्य पालन का ठेका इस बार जलाशय में चलाया गया तो पर्यटक स्थल की उपलब्धि तो समाप्त होगी ही साथ ही यहां के छोटे छोटे दुकानदारों व क्षेत्रीय जनता का हनन होना भी तय है जनता का कहना है अगर यहां मत्स्य पालन का ठेका दिया जाता है तो यहां की जनता प्रदेश सरकार के खिलाफ आंदोलन करने को बाध्य होगी वही यह आंदोलन की चिंगारी आने वाले समय मे भाजपा सरकार के लिए घातक साबित होगी

rudranews
Author: rudranews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

FOLLOW US

RELATED STORIES

live cricket Update

Stock Market

हमसे अन्य सोशल मीडिया में जुड़े